बुधवार, 14 अप्रैल 2010

लतीफ़े

संता दिल्ली से मेरठ जा रहा था अचानक संता बोलता है- जल्दी चलो नही तो हमें कच्चे रास्ते से जाना पड़ेगा।
ड्राइवर- क्यों..
संता- अरे बेवकूफ पढ़ा नही, ये सड़क तो हरिद्वार जाने वाली है, पता नही कब चली जाये।


रमा (राजू से)-तुम हफ्ते में कितनी बार शेव करते हो।
राजू (रमा से)- हफ्ते में नही, दिन में 30-40 बार।
रमा- क्या.. तुम पागल हो?
राजू- नही, मैं नाई हूं।


अध्यापक (चिंटू से)- 3 जमा 5?
चिंटू- 8
अध्यापक- 7 जमा 3?
चिंटू- 10
अध्यापक- 8 जमा 8?
चिंटू- पता नही सर मेरे पास सिर्फ 10 ही उंगली है।


डॉक्टर (मरीज से)- कमजोरी है फल खाया करो छिलके सहित।
एक घंटे बाद..
मरीज- डॉक्टर साहब मेरा पेट दर्द हो रहा है।
डॉक्टर- क्या खाया था?
मरीज- नारियल छिलके सहित।

पति भागा-भागा होटल मैनेजर के पास गया, जल्दी चलो! मेरी बीवी खिड़की से कूदकर जान देना चाहती है।
होटल मैनेजर- तो इसमें मैं क्या करूं?
पति- खिड़की नही खुल रही है।

1 टिप्पणी:

  1. वाह वाह!
    और शेष, यह वर्ड वेरिफ़िकेशन हटा दोगे तो अच्छा रहेगा।

    उत्तर देंहटाएं