सोमवार, 14 जून 2010

बॉलीवुड

नग्नता से परहेज करने लगी हैं: शर्लिन

हॉट और बिंदास बाला शर्लिन चोपड़ा का दावा है कि उन्होंने प्लेब्वॉय के कवर पर आने का प्रस्ताव ठुकरा दिया है। मशहूर पत्रिका प्लेब्वॉय के कवर पर शर्लिन चोपड़ा को देखना अधिकांश लोगों के लिए किसी सपने की तरह हो सकता था। लेकिन आयटम गर्ल शर्लिन चोपड़ा का दावा है कि अंतरराष्ट्रीय स्तर की पत्रिका प्लेब्वॉय ने उनसे कवर पर आने के लिए संपर्क किया था। शर्लिन ने अपने ट्विटर पर लिखा है, मुझे प्लेब्वॉय के कवर पर छपने का प्रस्ताव मिला था। मुझे समझ नहीं आया कि क्या जवाब दूं। बाद में शर्लिन ने यू टर्न लेते हुए लिखा, मैं इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं कर सकी। इसकी वजह शायद मेरी भारतीयता थी। उन्होंने लिखा, हालांकि मैं नग्नता की प्रशंसक हूं। नग्नता वास्तव में शुद्धता ही है और यह किसी वस्तु या व्यक्ति को उसके ईमानदार रूप में पेश करती है। लेकिन पूर्ण रूप से नग्नता के लिए शायद मैं तैयार नहीं हूं। इस पूरे घटनाक्रम की विसंगतता देखिये कि एक सप्ताह पहले ही शर्लिन ने ट्विटर पर अपनी नई फोटो डाली है। और पहले के इंटरव्यूज में वह यह कह चुकी हैं, मैं प्लेब्वॉय के कवर पर आना चाहती हूं और चाहती हूं कि भारतीय गौरवान्वित हों।
लिहाजा प्लेब्वॉय के कवर पर छपने का प्रस्ताव ठुकरा देने का शर्लिन का दावा संदिग्ध लगता है। शर्लिन के करीबी सूत्र का कहना है, दरअसल प्लेब्वॉय के अधिकृत फोटोग्राफर बॉब ने बिकनी गर्ल शर्लिन के कुछ फोटो नेट पर देखे थे। उन्होंने शर्लिन से संपर्क किया। वह उनके साथ एक शूट चाहते थे। लेकिन उनके बीच यह डील इसलिए तय नहीं हो पाई, क्योंकि यह शूट कवर के लिए नहीं था। अब बेचारी शर्लिन और क्या कहतीं।

16 जून को रिलीज होगी रावण
‘काइट्स’ के फ्लॉप होने और प्रकाश झा की ‘राजनीति’ के दर्शकों को पसंद किये जाने के बाद बॉक्स ऑफिस अब जिस बड़ी फिल्म की ओर नजरें टिकाए हुए है, वह है मणिरत्नम की ‘रावण’। लगभग डेढ़ सौ करोड़ की इस फिल्म से दर्शकों के साथ-साथ अभिषेक और ऐश्वर्या को भी बहुत उम्मीदें हैं। अभिषेक के बारे में तो कहा जा रहा है कि यह फिल्म उनका भविष्य तय करेगी।

अभिषेक ने भी अपने ट्विटर पर इस फिल्म की चर्चा की है। बहरहाल अभिषेक बच्चन और ऐश्वर्या राय स्टारर मणिरत्नम द्वारा निर्देशित फिल्म ‘रावण’ का वर्ल्ड प्रीमियर 16 जून को होगा। गौरतलब है कि इस फिल्म में अभिषेक बच्चन रावण के किरदार में हैं और साउथ के हीरो विक्रम राम के रूप में। इस फिल्म का तमिल वजर्न भी बन कर तैयार हो रहा है।

अब भी रहस्य हैं रेखा
हाल ही में हॉलीवुड अभिनेत्री डेमी मूर ने यह घोषणा की है कि वह अपनी आत्मकथा लिख रही हैं। हमने देसी सेलेब से यह जानने की कोशिश की कि वे किस सिलेब्रिटी की बायोग्राफी सबसे ज्यादा पढ़ना चाहेंगी। और जवाब था-रेखा। डिजाइनर रितु बेरी ने कहा, रेखा की आत्मकथा सबसे ज्यादा दिलचस्प हो सकती है और यह निश्चित रूप से बेस्टसेलर साबित होगी। वह एक खास महिला हैं और जाहिर है उनकी जिंदगी काफी आकर्षक और रोमांचक होगी। अभिनेत्री कोयना मित्र भी इससे सहमत दिखाई देती हैं। वह कहती हैं, रेखा का व्यक्तित्व बहुत आकर्षक है और उनके चारों ओर हमेशा ही रहस्य की परतें-सी बनी रहती हैं। इशा कोप्पिकर कहती हैं, बहुत-सी ऐसी बातें हैं, जो मैं उनके बारे में जानना चाहती हूं। और उनकी किताब ही यह रहस्य खोल सकती है कि उन्हें क्या पसंद है और क्या नहीं।

मॉडल अमनप्रीत वाही उम्मीद करती हैं कि जब भी रेखा अपनी आत्मकथा लिखने का फैसला करेंगी, वह बहुत से रहस्यों से परदा हटायेंगी। वह कहती हैं, रेखा के बारे में बहुत सी बातें अभी भी रहस्य बनी हुई हैं। मसलन, अमिताभ बच्चन और रेखा के रिश्ते का सच क्या है, मुकेश शर्मा से उसके विवाह की हकीकत क्या थी? वह कहती हैं, जब कभी भी वे किताब लिखेंगी, ईमानदारी से इन सवालों के जवाब देने की कोशिश करेंगी, क्योंकि उनके फैन्स इन सवालों के जवाब जानना चाहते हैं।
हालांकि पिछले दिनों इस तरह की खबरें प्रकाशित हुई थीं कि यह एजलैस ब्यूटी, जिसने 180 से अधिक फिल्मों में काम किया है, अपने जीवन की कहानी लिखने जा रही है। लेकिन रेखा ने इस खबर पर भी कोई टिप्पणी नहीं की थी, न तो इसकी पुष्टि की और न ही इसका खंडन किया। मनीष मल्होत्रा कहते हैं, रेखा लिविंग लीजेंड हैं। बॉलीवुड में उनकी यात्रा बेहद रोमांचकारी रही है। उनके अपने शब्दों में उनकी इस यात्रा के बारे में जानना काफी दिलचस्प हो सकता है।

कैट को लगी खरीदारी की बीमारी

कैटरीना कैफ को आजकल खरीदारी का शौक चढ़ा हुआ है। कहने वाले कह रहे हैं कि उनका यह शौक बीमार की हद तक बढ़ गया और लोग उन्हें शॉपाहोलिक तक कहने लगे हैं। पिछले दिनों जोया अख्तर की अगली फिल्म के लिए लंदन में शूटिंग कर रही कैटरीना कैफ को एक पूरा दिन मिल गया। बस फिर क्या था। वह निकल पड़ीं ऑक्सफोर्ड स्ट्रीट। कैट ने सारे बाजार छान मारे। इसके बाद वह बुटीक और कई डिपार्टमेंटल स्टोर गईं। अब आप सोचेंगे कि इतने सारे बाजार घूमने के बाद उन्होंने खूब खरीदारी की होगी। लेकिन आपको जान कर आश्चर्य होगा कि उन्होंने केवल एक दजर्न से अधिक जोड़ी शूज खरीदे। अब इसे शॉपाहोलिक नहीं कहा जाएगा तो और क्या कहा जाएगा।

1 टिप्पणी:

  1. नमस्ते,

    आपका बलोग पढकर अच्चा लगा । आपके चिट्ठों को इंडलि में शामिल करने से अन्य कयी चिट्ठाकारों के सम्पर्क में आने की सम्भावना ज़्यादा हैं । एक बार इंडलि देखने से आपको भी यकीन हो जायेगा ।

    उत्तर देंहटाएं